Dey News

एक्सेल क्या है ? और इसका इतिहास

 

अध्याय 1 : एक्सेल का इतिहास (History of Excel)

कोई भी विषय पढ़ने से पहले हमें ये जान लेना चाहिए कि उस विषय का इतिहास क्या हैं ? आइये हम सींख लेते हैं कि एक्सेल का इतिहास क्या हैं ? और इसकी शुरुआत कैसे हुई ? इसके जनक कौन थे यानि कि father of excel ? एक्सेल कब लांच हुआ था ? ऐसी कुछ बातें हैं जो हम एक्सेल के इतिहास में पढेंगे | 

यहाँ पर सबसे पहले हम ये जानेंगे कि एक्सेल के पिता कौन थे ?  –  dan brikclin को father of excel कहा जाता हैं | ये माइक्रोसॉफ्ट corporation के अंदर बतौर सॉफ्टवेर इंजिनियर के रूप में काम करते थे | इन्होंने सबसे पहले एक्सेल को 1978-1979 में बनाया था | 

एक्सेल को एक और नाम से जाना जाता हैं | उसका नाम workbook हैं | 1982 में multiplan भी जाता था | workbook इसलिए कहतें हैं क्योंकि workbook एक से ज्यादा worksheets अपने पास रखता हैं | जिस पर हम अलग अलग तरह के कार्य करते हैं | 

excel version – एक्सेल के अलग अलग version हैं | एक्सेल के पहले versकी बात करें तो यह 30 sep 1985 को एक्सेल-1 mac os के लिए बनाया गया था और लांच किया गया था | बाद में यह windows के साथ जुड़ा औion र 1990 में माइक्रोसॉफ्ट corporation ने लांच किया | एक्सेल के अलग अलग version के नाम इस प्रकार हैं | excel 2003, excel2007,excel 2010, excel 2013, excel2016 ,excel 2019 हैं | 

version year

Excel 1 1985

Excel 2.0 1987

Excel 3.0 1990

Excel 4.0 1992

Excel 5.0 1993

Excel 95(v7.0) 1995

Excel 97(v8.0) 1997

Excel 2000(v9.0) 2000

Excel 2002(v10.0) 2002

Excel 2003(v11.0) 2003

Excel 2007(v12.0) 2007

Excel 2010(v14.0) 2010

Excel 2013(v15.0) 2013

Excel 2016(v16.0) 2016

Excel 2019(v16.0) 2019

Excel 2021(v16.0) 2021

VERSION AND LAUNCH YEAR

मैंने इसमें एक बात का जिक्र किया msoffice के बारें तो इसका भी थोड़ा सा इतिहास जान लेतें हैं | msoffice की स्थापना 4 अप्रैल 1975 को बिल गेट्स और पॉल एलन के द्वारा की गयी थी | इस समय इस कंपनी के ceo भारत के सत्या नडेला हैं जो वर्तमान में सक्रीय रूप से कार्यरत हैं | 

आप लोगों ने ऑफिस 365 के बारें में सुना ही होंगा यह काफी चर्चा का विषय बना हुआ था तो इसका भी इतिहास हैं | microsoft corporation ने अक्टूबर 2010 में msoffice का नाम बदल के ऑफिस 365 की घोषणा की | अप्रैल 2011 में जब यह लांच हुआ तब सिर्फ बड़ी बड़ी कंपनियां ही प्रयोग में लेती थी | बाद में चल के जून 2011 में यह एक बार फिर से लांच किया गया और इस बार आम आदमी भी प्रयोग में ले सकते थे | 

msoffice इंडिया में 3.0 version के साथ 30 अगस्त 1992 लांच किया गया | बाद में कई  अलग अलग version इंडिया में लांच हुए जैसे 24 अगस्त 1995 किया गया | 

 

अध्याय:2 एक्सेल का परिचय (Introduction of Excel)

एक्सेल का इतिहास पढ़ लेने के बाद हम एक्सेल का परिचय जानेंगे | आप एक्सेल में क्या पढेंगे ? क्या सीखेंगे ? और यह आपके करियर में कैसे मदद करेंगा ? इसका कहाँ – कहाँ प्रयोग किया जाता हैं ?

एक्सेल का परिचय (Introduction Of Excel)

एक्सेल माइक्रोसॉफ़्ट ऑफिस का एक कॉम्पोनेंट हैं जिसके अंदर अलग – अलग तरह के सॉफ्टवेयर होते हैं | उदाहरण के तौर पर winword , ms access आदि पाये जाते हैं |

एक्सेल एक स्प्रेडशीट हैं | जिसके अंदर संख्यात्मक और अल्फाबेट दोनों मौजूद होते हैं | इन दोनों का मिश्रित रूप से स्प्रेडशीट के अंदर प्रयोग देखने को मिलता हैं | 

एक्सेल एक वर्कबुक हैं | जिसके अंदर स्प्रेडशीट देखने को मिलता हैं |

एक्सेल माइक्रोसॉफ़्ट कार्पोरेशन द्वारा बनाया गया हैं | 

एक्सेल का प्रयोग (Uses of Excel)

एक्सेल का प्रयोग उन सभी क्षेत्रों में किया जाता हैं | जहाँ डाटा को मैनेज किया जाता हैं | एक्सेल का प्रयोग डाटा को फीड करने में , डाटा को सॉर्ट करने में , डाटा को फ़िल्टर करने में , किसी कंपनी का रिपोर्ट तैयार करने में , स्कूल के रिज़ल्ट बनाने में , ग्राफ के मदद से डाटा को समझाने में , अकाउंटिंग से रिलेटेड काम करने में और डाटा को formatting करने में किया जाता हैं | 

एक्सेल के मैन्यू (Menu of Excel)

एक्सेल को जब आप खोलेंगे तो देखेंगे तो बहुत सारे ऑप्शन हैं | ये सभी ऑप्शन रिबन पर होते हैं | जैसे फ़ाइल मैन्यू , होम मैन्यू , इन्सर्ट मैन्यू , पेज लेआउट मैन्यू , फॉर्मूला मैन्यू , डाटा मैन्यू , रिवियू मैन्यू , और लास्ट में व्यू मैन्यू होता हैं |

एक्सेल के ग्रुप (Group of Excel)

फ़ाइल मैन्यू के अंदर बहुत सारे ऑप्शन होते हैं | उन सभी ऑप्शन को मिला के ग्रुप बनता हैं | जैसे – क्लिपबोर्ड ग्रुप के अंदर कट , कॉपी , पेस्ट , formate painter इत्यादि ये सभी शामिल हैं | ऐसे ही प्रत्येक ग्रुप में कुछ ना कुछ ऑप्शन देखने को मिल जायेंगे | 

फार्मूला बार (formula bar)

फ़ॉर्मूला बार रिबन के ठीक नीचे पायी जाती हैं | जो भी फ़ॉर्मूला सेल के अंदर लगाई जाती हैं | वह सभी फ़ॉर्मूला इसी बार के अंदर दिखाई पड़ती हैं | 

कॉलम (column) 

एक्सेल के अंदर कॉलम a,b,c…….. खड़ी लाइन के रूप में पायी जाती हैं | इनकी संख्या 16384 होती हैं |

रो(row)

एक्सेल के अंदर रो 1,2,3,………… लाइन के रूप में पायी जाती हैं | इनकी संख्या 1048576 होती हैं |

सेल (cell)

एक्सेल के अंदर जहाँ पर रो और कॉलम एक दूसरे को बाइसेक्ट करते हैं | उन्हें सेल कहते हैं | इनकी संख्या 17179869184 होती हैं | 

नेमबॉक्स(name box)

फॉर्मूला बार के ठीक लेफ्ट साइड में नेम बॉक्स होता हैं | जिसके कोई  भी सेलेक्ट हुआ होता हैं तो उस सेल का एड्रैस का नाम दे देता हैं | और साथ में जितना आपने सेल ग्रुप को सेलेक्ट किये होते हैं उसका भी एड्रैस का नाम देता हैं |

 

Exit mobile version